Geography (भूगोल) Arts (Hindi Medium) Class 11 [११ वीं कक्षा] CBSE Syllabus 2024-25

Advertisements

CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Syllabus - Free PDF Download

CBSE Syllabus 2024-25 Class 11 [११ वीं कक्षा]: The CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Syllabus for the examination year 2024-25 has been released by the Central Board of Secondary Education, CBSE. The board will hold the final examination at the end of the year following the annual assessment scheme, which has led to the release of the syllabus. The 2024-25 CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Board Exam will entirely be based on the most recent syllabus. Therefore, students must thoroughly understand the new CBSE syllabus to prepare for their annual exam properly.

The detailed CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Syllabus for 2024-25 is below.

Academic year:

CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Revised Syllabus

CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) and their Unit wise marks distribution

CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Course Structure 2024-25 With Marking Scheme

#Unit/TopicWeightage
I  भारत: भौतिक पर्यावरण 
1  भारत-स्थिति 
2  संरचना तथा भूआकृति विज्ञान 
3  अपवाह तंत्र 
4  जलवायु 
5  प्राकृतिक वनस्पति 
6  मृदा 
7  प्राकृतिक संकट तथा आपदाएँ 
II  भौतिक भूगोल के मूल सिद्धांत 
1  भूगोल एक विषय के रूप में 
2  पृथ्वी की उत्पत्ति एवं विकास 
3  पृथ्वी की आंतरिक संरचना 
4  महासागरों और महाद्वीपों का वितरण 
5  खनिज एवं शैल 
6  भू-आकृतिक प्रक्रियाएँ 
7  भू-आकृतियाँ तथा उनका विकास 
8  वायुमंडल का संघटन तथा संरचना 
9  सौर विकिरण, ऊष्मा संतुलन एवं तापमान 
10  वायुमंडलीय परिसंचरण तथा मौसम प्रणालियाँ 
11  वायुमंडल में जल 
12  विश्व की जलवायु एवं जलवायु परिवर्तन 
13  महासागरीय जल 
14  महासागरीय जल संचलन 
15  पृथ्वी पर जीवन 
16  जैव - विविधता एवं संरक्षण 
III  भूगोल में प्रयोगात्मक कार्य 
1  मानचित्र का परिचय 
2  मानचित्र मापनी 
3  अक्षांश, देशांतर और समय 
4  मानचित्र प्रक्षेप 
5  स्थलाकृतिक मानचित्र 
6  वायव फ़ोटो का परिचय 
7  सुदूर संवेदन का परिचय 
8  मौसम यंत्र, मानचित्र तथा चार्ट 
 Total -
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Syllabus

CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Syllabus for Chapter 1: भारत: भौतिक पर्यावरण

1 भारत-स्थिति
  • भारत-स्थिति की प्रस्तावना  
  • भारत का आकार  
  • भारत के पड़ोसी देश  
2 संरचना तथा भूआकृति विज्ञान
  • संरचना तथा भूआकृति विज्ञान का परिचय  
  • प्रायद्वीपीय खंड  
  • हिमालय और अन्य अतिरिक्त-प्रायद्वीपीय पर्वतमालाएँ  
  • सिंधु-गंगा-ब्रह्मपुत्र मैदान  
  • भूआकृति  
    • उत्तर तथा उत्तरी-पूर्वी पर्वतमाला  
      • कश्मीर या उत्तरी-पश्चिमी हिमालय
      • हिमाचल और उत्तराखण्ड हिमालय
      • दार्जिलिंग और सिक्किम हिमालय
      • अरुणाचल हिमालय
      • पूर्वी पहाड़ियाँ और पर्वत
    • उत्तरी भारत का मैदान  
    • प्रायद्वीपीय पठार  
      • दक्कन का पठार
      • मध्य उच्च भूभाग
      • उत्तर-पूर्व पठार
    • भारतीय मरुस्थल  
    • तटीय मैदान  
      • पश्चिमी तटीय मैदान
      • पूर्वी तटीय मैदान
    • द्वीप समूह  
3 अपवाह तंत्र
  • अपवाह तंत्र का परिचय  
  • भारत के अपवाह तंत्र  
    • हिमालयी अपवाह  
      • हिमालय पर्वतीय अपवाह तंत्र का विकास
      • हिमालयी अपवाह तंत्र की नदियाँ
      1. सिंधु नदी तंत्र
      2. गंगा नदी तंत्र
      3. ब्रह्मपुत्र नदी तंत्र
    • प्रायद्वीपीय अपवाह तंत्र  
      • प्रायद्वीपीय अपवाह तंत्र का उद्विकास
      • प्रायद्वीपीय नदी तंत्र
      • पश्चिम की ओर बहने वाली छोटी नदियाँ
      • पूर्व की ओर बहने वाली छोटी नदियाँ
  • नदी बहाव प्रवृत्ति  
  • नदी जल उपयोग की सीमा  
4 जलवायु
  • जलवायु का परिचय  
  • मानसून जलवायु में एकरूपता एवं विविधता  
  • भारत की जलवायु को प्रभावित करने वाले कारक  
    • स्थिति तथा उच्चावच संबंधी कारक
    1. अक्षांश
    2. हिमालय पर्वत
    3. जल और स्थल का वितरण
    4. समुद्र तट से दूरी
    5. समुद्र तल से ऊंचाई
    6. उच्चावच
    • वायुदाब एवं पवनों से जुड़े कारक
    1. शीतॠतु में मौसम की क्रियाविधि
    2. ग्रीष्म ॠतु में मौसम की क्रियाविधि
  • भारतीय मानसून की प्रकृति  
    • मानसून का आरंभ
    • वर्षावाही तंत्र तथा मानसूनी वर्षा का वितरण
    • मानसून में विच्छेद
  • ऋतुओं की लय  
    • शीत ऋतु  
    • ग्रीष्म ऋतु  
    • दक्षिण-पश्चिमी मानसून की ऋतु (वर्षा ऋतु)  
      • अरब सागर की मानसून पवनें
      • बंगाल की खाड़ी की मानसून पवनें
      • मानसून वर्षा की विशेषताएँ
    • मानसून के निवर्तन की ऋतु  
  • भारत की परंपरागत ऋतुएँ  
    • वर्षा का वितरण
    • वर्षा की परिवर्तिता
    • भारत के जलवायु प्रदेश
    • मानसून और भारत का आर्थिक जीवन
  • भूमंडलीय तापन  
5 प्राकृतिक वनस्पति
  • प्राकृतिक वनस्पति  
  • वनों के प्रकार  
    • उष्ण कटिबंधीय सदाबहार एवं अर्ध-सदाबहार वन
    • उष्ण कटिबंधीय पर्णपाती वन
    • उष्ण कटिबंधीय कांटेदार वन
    • पर्वतीय वन
    • वेलांचली व अनूप वन
  • भारत में वन आवरण  
  • वन संरक्षण  
    • सामाजिक वानिकी
    • फार्म वानिकी
  • वन्य प्राणी  
  • भारत में वन्य प्राणी संरक्षण  
  • जैवमण्डल आरक्षण  
    • नीलगिरी जीव मंडल निचय
    • नंदा देवी जीव मंडल निचय
    • सुंदर वन जीव मंडल निचय
    • मन्नार की खाड़ी का जीव मंडल निचय
6 मृदा
  • मृदा का परिचय  
  • मृदा का वर्गीकरण  
    • जलोढ़ मृदाएँ
    • काली मृदाएँ
    • लाल और पीली मृदाएँ
    • लैटेराइट मृदाएँ
    • शुष्क मृदाएँ
    • लवण मृदाएँ
    • पीटमय मृदाएँ
    • वन मृदाएँ
  • मृदा अवकर्षण  
  • मृदा अपरदन  
  • मृदा संरक्षण  
7 प्राकृतिक संकट तथा आपदाएँ
  • प्राकृतिक संकट तथा आपदाओं का परिचय  
  • प्राकृतिक आपदाओं का वर्गीकरण  
  • भारत में प्राकृतिक आपदाएँ  
    • भूकंप  
      • भूकंप के सामाजिक-पर्यावरणीय परिणाम
      • भूकंप के प्रभाव
      1. भूतल पर
      2. मानवकृत ढाँचों पर
      3. जल पर
      • भूकंप न्यूनीकरण
    • सुनामी  
    • उष्ण कटिबंधीय चक्रवात  
      • उष्ण कटिबंधीय चक्रवात की संरचना
      • भारत में चक्रवातों का क्षेत्रीय और समयानुसार वितरण
      • उष्ण कटिबंधीय चक्रवातों के परिणाम
    • बाढ़  
      • बाढ़ परिणाम और नियंत्रण
    • सूखा  
      • सूखे के प्रकार
      1. मौसमविज्ञान संबंधी सूखा
      2. कृषि सूखा
      3. जलविज्ञान संबंधी सूखा
      4. पारिस्थितिक सूखा
      • भारत में सूखा ग्रस्त क्षेत्र
      1. अत्यधिक सूखा प्रभावित क्षेत्र
      2. अधिक सूखा प्रभावित क्षेत्र
      3. मध्यम सूखा प्रभावित क्षेत्र
      • सूखे के परिणाम
    • भूस्खलन  
      • भूस्खलन सुभेद्यता क्षेत्र
      1. अत्यधिक सुभेद्यता क्षेत्र
      2. अधिक सुभेद्यता क्षेत्र
      3. मध्यम और कम सुभेद्यता क्षेत्र
      4. अन्य क्षेत्र
      • भूस्खलनों के परिणाम
      • निवारण
  • आपदा प्रबंधन  
    • आपदापूर्व-प्रबंधन
    • आपदा-आघात के पश्चात का प्रबंधन

CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Syllabus for Chapter 2: भौतिक भूगोल के मूल सिद्धांत

1 भूगोल एक विषय के रूप में
  • भूगोल एक विषय के रूप में  
  • भूगोल एक समाकलन (Integrating) विषय के रूप में  
    • भौतिक भूगोल एवं प्राकृतिक विज्ञान
    • भूगोल एवं सामाजिक विज्ञान
  • भूगोल की शाखाएँ  
    • भूगोल की शाखाएँ (विषयवस्तुगत या क्रमबद्ध उपागम के आधार पर)
    1. भौतिक भूगोल
    2. मानव भूगोल
    3. जीव-भूगोल
    • प्रादेशिक उपागम पर आधारित भूगोल की शाखाएँ
    1. वृहद्, मध्यम, लघुस्तरीय प्रादेशिक/क्षेत्रीय अध्ययन
    2. ग्रामीण/इलाका नियोजन तथा शहर एवं नगर नियोजन सहित प्रादेशिक नियोजन
    3. प्रादेशिक विकास
    4. प्रादेशिक विवेचना/विश्लेषण
    • भौतिक भूगोल एवं इसका महत्व
2 पृथ्वी की उत्पत्ति एवं विकास
  • पृथ्वी की उत्पत्ति एवं विकास का परिचय  
  • आरंभिक सिद्धांत  
    • पृथ्वी की उत्पत्ति
  • आधुनिक सिद्धांत  
    • ब्रह्मांड की उत्पत्ति
    • तारों का निर्माण
    • ग्रहों का निर्माण
  • सौरमंडल  
    • सूर्य 
    • ग्रह 
    • बुध 
    • शुक्र 
    • पृथ्वी 
    • मंगल 
    • बृहस्पति 
    • शनि 
    • यूरेनस 
    • नेप्ट्यून
  • चंद्रमा  
  • पृथ्वी का उद्भव  
    • स्थलमंडल का विकास
    • वायुमंडल व जलमंडल का विकास
    • जीवन की उत्पत्ति
3 पृथ्वी की आंतरिक संरचना
  • पृथ्वी का आंतरिक भाग  
    • पर्पटी
    • मैंटल
    • क्रोड
  • भूगर्भ की जानकारी के साधन  
    • प्रत्यक्ष स्रोत
    • अप्रत्यक्ष स्रोत
  • भूकंप  
  • पृथ्वी की संरचना  
    • भूपर्पटी (The Crust)
    • मैंटल (The Mantle)
    • क्रोड (The Core)
  • ज्वालामुखी व ज्वालामुखी निर्मित स्थलरूप  
    • ज्वालामुखी
    1. शील्ड ज्वालामुखी
    2. मिश्रित ज्वालामुखी
    3. ज्वालामुखी कुंड
    4. बेसाल्ट प्रवाह क्षेत्र
    5. मध्य-महासागरीय कटक ज्वालामुखी
    • ज्वालामुखीय स्थलाकृतियाँ
    1. अंतर्वेधी आकृतियाँ
    1. बैथोलिथ
    2. लैकोलिथ
    3. लैपोलिथ, फैकोलिथ व सिल
    4. डाइक
4 महासागरों और महाद्वीपों का वितरण
  • महासागरों और महाद्वीपों के वितरण का परिचय  
  • महाद्वीपीय प्रवाह  
    • महाद्वीपीय विस्थापन के पक्ष में प्रमाण
    1. महाद्वीपों में साम्य
    2. महासागरों के पार चट्टानों की आयु में समानता
    3. टिलाइट
    4. प्लेसर निक्षेप
    5. जीवाश्मों का वितरण
    • प्रवाह संबंधी बल
    • प्रवाह के बाद का अध्ययन
    1. संवहन-धारा सिद्धांत
    2. महासागरीय अधस्तल का मानचित्रण
    • महासागरीय अधस्तल की बनावट
    1. महाद्वीपीय सीमा
    2. वितलीय मैदान
    3. मध्य महासागरीय कटक
    • भूकंप व ज्वालामुखियों का वितरण
  • सागरीय अधस्तल का विस्तार  
  • प्लेट विवर्तनिकी  
    • अपसारी सीमा
    • अभिसरण सीमा
    • रूपांतर सीमा
    • प्लेट प्रवाह दरें
    • प्लेट को संचलित करने वाले बल
  • भारतीय प्लेट का संचलन  
5 खनिज एवं शैल
  • शैल एवं खनिज  
  • खनिज  
    • भौतिक विशेषताएँ
    • धात्विक खनिज
    1. बहुमूल्य धातु
    2. लौह धातु
    3. अलौहिक धातु
    • अधात्विक खनिज
  • शैलें  
    • आग्नेय शैल
    • अवसादी शैल
    • कायांतरित शैल
  • शैली चक्र  
6 भू-आकृतिक प्रक्रियाएँ
  • भू-आकृतिक प्रक्रियाएँ  
  • अंतर्जनित प्रक्रियाएँ  
    • पटल विरूपण
    • ज्वालामुखीयता
  • बहिर्जनिक प्रक्रियाएँ  
  • अपक्षय प्रक्रियाएँ  
    • अपक्षय प्रक्रियाएँ
    • अपक्षय प्रक्रियाओं के प्रकार
      1) भौतिक अपक्षय
      2) रासायनिक अपक्षय
      3) जैविक अपक्षय
    • अपक्षय के विशेष प्रभाव
    • अपक्षय का महत्व
  • बृहत् संचलन  
    • भूस्खलन
  • अपरदन एवं निक्षेपण  
  • मृदा निर्माण  
    • मृदा निर्माण की प्रक्रियाएँ
    • मृदा निर्माण के कारक
    1. जलवायु
    2. मूल पदार्थ/शैल
    3. स्थलाकृति/उच्चावच
    4. जैविक क्रियाएँ
    5. कालावधि
7 भू-आकृतियाँ तथा उनका विकास
  • भू-आकृतियाँ तथा उनका विकास का परिचय  
  • प्रवाहित जल  
    • प्रवाहित जल से निर्मित प्रत्येक अवस्था की विशेषताओं का संक्षिप्त वर्णन निम्न प्रकार है:
    1. युवावस्था
    2. प्रौढ़ावस्था
    3. वृद्धावस्था
    • अपरदित स्थलरूप
    1. घाटियाँ
    2. जलगर्तिका तथा अवनमित कुंड
    3. अधःकर्तित विसर्प या गभीरीभूत विसर्प
    4. नदी वेदिकाएँ
    • निक्षेपित स्थलरूप
    1. जलोढ़ पंख
    2. डेल्टा
    3. बाढ़-मैदान, प्राकृतिक तटबंध तथा विसर्पी रोधिका
    4. नदी विसर्प
  • भौम जल  
    • अपरदित स्थलरूप
    1. कुंड, घोलरंध्र, लैपीज, और चूना-पत्थर चबूतरे
    2. कंदराएँ
    • निक्षेपित स्थलरूप
    1. स्टैलेक्टाइट, स्टैलेग्माइट और स्तंभ
  • हिमनद  
    • अपरदित स्थलरूप
    1. सर्क
    2. हॉर्न या गिरिशृंग और सिरेटेड कटक
    3. हिमनद घाटी/गर्त
    • निक्षेपित स्थलरूप
    1. हिमोढ़
    2. एस्कर
    3. हिमानी धौत मैदान
    4. ड्रमलिन
  • तरंग व धाराएँ  
  • ऊँचे चट्टानी तट  
  • निम्न अवसादी तट  
    • अपरदित स्थलरूप
    1. भृगु, वेदिकाएँ, कंदराएँ तथा स्टैक
    • निक्षेपित स्थलरूप
    1. पुलिन और टिब्बे
    2. रोधिका, रोध तथा स्पिट
  • पवनें  
    • अपरदनात्मक स्थलरूप
    1. पेडिमेंट और पदस्थली
    2. प्लाया
    3. अपवाहन गर्त तथा गुहा
    4. छत्रक, टेबल तथा पीठिका शैल
    • निक्षेपित स्थलरूप
    1. बालू-टिब्बे
8 वायुमंडल का संघटन तथा संरचना
  • वायुमंडल का संघटन तथा संरचना का परिचय  
  • वायुमंडल का संघटन  
    • गैस
    • जलवाष्प
    • धूलकण
  • वायुमंडल की संरचना  
    • क्षोभमंडल
    • समतापमंडल
    • मध्यमंडल
    • बाह्य वायुमंडल
    • बहिर्मंडल
9 सौर विकिरण, ऊष्मा संतुलन एवं तापमान
  • सौर विकिरण, ऊष्मा संतुलन एवं तापमान का परिचय  
  • सौर विकिरण  
    • पृथ्वी की सतह पर सूर्यातप में भिन्नता
  • वायुमंडल का तापन एवं शीतलन  
    • पार्थिव विकिरण
    • पृथ्वी का ऊष्मा बजट
    • तापमान
    • तापमान के वितरण को नियंत्रित करने वाले कारक
    • तापमान का वितरण
  • तापमान का व्युत्क्रमण  
10 वायुमंडलीय परिसंचरण तथा मौसम प्रणालियाँ
  • वायुमंडलीय परिसंचरण तथा मौसम प्रणालियाँ का परिचय  
  • वायुमंडलीय दाब  
    • वायुदाब में ऊर्ध्वाधर भिन्नता
    • वायुदाब का क्षैतिज वितरण
    • समुद्रतल वायुदाब का विश्व-वितरण
  • पवनों की दिशा व वेग को प्रभावित करने वाले बल  
    • दाब-प्रवणता बल
    • घर्षण बल
    • कोरिऑलिस बल
    • वायुदाब व पवनें
  • वायुमंडल का सामान्य परिसंचरण  
    • मौसमी पवनें
    • स्थानीय पवनें
    • स्थल व समुद्र समीर
    • पर्वत व घाटी पवनें
    • वायुराशियाँ
    • वाताग्र
    • बहिरुष्ण कटिबंधीय चक्रवात
    • ऊष्ण कटिबंधीय चक्रवात
    • तड़ितझंझा व टोरनेडो
11 वायुमंडल में जल
  • वायुमंडल में जल का परिचय  
  • वाष्पीकरण तथा संघनन  
    • ओस
    • तुषार
    • कोहरा एवं कुहासा
    • बादल
    1. पक्षाभ मेघ
    2. कपासी मेघ
    3. स्तरी मेघ
    4. वर्षा मेघ
    • वर्षण
  • वर्षा और वर्षा के प्रकार  
    • संवहनीय वर्षा
    • पर्वतीय वर्षा
    • चक्रवातीय वर्षा या फ्रंटल वर्षा
    • आरोही अथवा अभिसरण वर्षा
    • प्रतिरोधी वर्षा 
  • संसार में वर्षा वितरण  
12 विश्व की जलवायु एवं जलवायु परिवर्तन
  • विश्व की जलवायु एवं जलवायु परिवर्तन का परिचय  
  • कोपेन की जलवायु वर्गीकरण की पद्धति  
    • समूह A उष्णकटिबंधीय जलवायु  
      • उष्णकटिबंधीय आर्द्र जलवायु (Af)
      • उष्णकटिबंधीय मानसून जलवायु (Am)
      • उष्णकटिबंधीय आर्द्र एवं शुष्क जलवायु (Aw)
    • शुष्क जलवायु-B  
      • उपोष्ण कटिबंधीय स्टेपी (BSh) एवं उपोष्ण कटिबंधीय मरुस्थल (BWh) जलवायु
      • कोष्ण शीतोष्ण (मध्य अक्षांशीय) जलवायु - C
      • आर्द्र उपोष्ण कटिबंधीय जलवायु (Cwa)
      • भूमध्यसागरीय जलवायु (Cs)
      • आर्द्र उपोष्ण कटिबंधीय जलवायु (Cfa)
      • समुद्री पश्चिम तटीय जलवायु (Cfb)
    • शीत हिम-वन जलवायु (D)  
      • आर्द्र जाड़ों से युक्त ठंडी जलवायु (Df)
      • शुष्क जाड़ों से युक्त ठंडी जलवायु (Dw)
    • ध्रुवीय जलवायु (E)  
      • टुण्ड्रा जलवायु (ET)
      • हिमटोप जलवायु (EF)
    • उच्च भूमि जलवायु (H)  
  • जलवायु परिवर्तन  
    • अभिनव पूर्व काल में जलवायु
  • जलवायु परिवर्तन के कारण  
  • भूमंडलीय तापन  
  • ग्रीनहाउस प्रभाव और भूमंडलीय तापन  
13 महासागरीय जल
  • जैव रासायनिक चक्रण  
    • जलीय चक्र  
      • जल के विलुप्त होने की युक्ति 
      • पौधों द्वारा जल की क्षति 
      • बादल कैसे बनते हैं 
      • पुनः महासागरों की ओर
  • महासागरीय अधस्तल का उच्चावच  
    • महासागरीय अधस्तल का विभाजन
    1. महाद्वीपीय शेल्फ़
    2. महाद्वीपीय ढाल
    3. गभीर सागरीय मैदान
    4. महासागरीय गर्त
    • उच्चावच की लघु आकृतियाँ
    1. मध्य-महासागरीय कटक
    2. समुद्री टीला
    3. सबसे सपाट जलमग्न कैनियन
    4. निमग्न द्वीप
    5. प्रवाल द्वीप
  • महासागरीय जल का तापमान  
    • तापमान वितरण को प्रभावित करने वाले कारक
    1. अक्षांश
    2. स्थल एवं जल का असमान वितरण
    3. सनातन पवनें
    4. महासागरीय धाराएँ
    • तापमान का ऊर्ध्वाधर तथा क्षैतिज वितरण
  • महासागरीय जल की लवणता  
    • महासागरीय लवणता को प्रभावित करने वाले कारक
    • लवणता का क्षैतिज वितरण
    • लवणता का ऊर्ध्वाधर वितरण
14 महासागरीय जल संचलन
  • महासागरीय जल संचलन का परिचय  
  • महासागरीय जल में तरंगें  
  • ज्वार-भाटा  
    • ज्वार-भाटा का महत्व
  • ज्वारभाटा के प्रकार  
    • आवृत्ति पर आधारित ज्वार-भाटा
    1. अर्ध-दैनिक ज्वार
    2. दैनिक ज्वार
    3. मिश्रित ज्वार
    • सूर्य, चंद्रमा एवं पृथ्वी की स्थिति पर आधारित ज्वारभाटा
    1. वृहत् ज्वार
    2. निम्न ज्वार
  • महासागरीय धाराएँ  
    • महासागरीय धाराओं के प्रकार:-
    • गहराई के आधार पर
    1. ऊपरी या सतही जलधारा
    2. गहरी जलधारा
    • तापमान के आधार पर
    1. ठंडी जलधारा
    2. गर्म जलधारा
    • प्रमुख महासागरीय धाराएँ
    • महासागरीय धाराओं के प्रभाव
15 पृथ्वी पर जीवन
  • पृथ्वी पर जीवन का परिचय  
  • पारिस्थितिकी  
  • पारितंत्र के प्रकार  
    • पारितंत्र के प्रकार
    1. स्थलीय पारितंत्र
    2. जलीय पारितंत्र
    • पारितंत्र की कार्य प्रणाली व संरचना
    • बायोम के प्रकार
  • जैव रासायनिक चक्रण  
  • पारिस्थितिक संतुलन  
16 जैव - विविधता एवं संरक्षण
  • जैव-विविधता एवं संरक्षण का परिचय  
  • जैव-विविधता के स्तर  
    • आनुवांशिक जैव-विविधता
    • प्रजातीय विविधता
    • पारितंत्रीय विविधता
  • जैव विविधता का महत्त्व  
    • जैव-विविधता की पारिस्थितिकीय भूमिका
    • जैव-विविधता की आर्थिक भूमिका
    • जैव-विविधता की वैज्ञानिक भूमिका
  • जैव-विविधता का ह्रास  
    • प्राकृतिक संसाधनों व पर्यावरण संरक्षण की अंतर्राष्ट्रीय संस्था (IUCN) ने संकटापन्न पौधों व जीवों की प्रजातियों को उनके संरक्षण के उद्देश्य से तीन वर्गों में विभाजित किया है।
    1. संकटापन्न प्रजातियाँ
    2. सुभेद्य प्रजातियाँ
    3. दुर्लभ प्रजातियाँ
  • जैव विविधता का संरक्षण  
    • हमें जैवविविधता को क्यों संरक्षित करना चाहिए?
    • जैवविविधता को हम कैसे संरक्षित करें?

CBSE Class 11 [११ वीं कक्षा] Geography (भूगोल) Syllabus for Chapter 3: भूगोल में प्रयोगात्मक कार्य

1 मानचित्र का परिचय
  • मानचित्र बनाने की अनिवार्यताएँ  
    • मानचित्र मापनी
    • मानचित्र प्रक्षेप
    • मानचित्र व्यापकीकरण
    • मानचित्र अभिकल्पना
    • मानचित्र निर्माण तथा उत्पादन
  • मानचित्रण का इतिहास  
  • मापनी पर आधारित मानचित्रों के प्रकार  
    • बृहत मापनी मानचित्र
    1. भूसंपत्ति मानचित्र
    2. स्थलाकृतिक मानचित्र
    • लघुमान मानचित्र
    1. भित्ति मानचित्र
    2. एटलस मानचित्र
  • प्रकार्य के आधार पर मानचित्रों का वर्गीकरण  
    • भौतिक मानचित्र
    1. उच्चावच मानचित्र
    2. भूगर्भीय मानचित्र
    3. जलवायु मानचित्र
    4. मृदा मानचित्र
    • सांस्कृतिक मानचित्र
    1. राजनीतिक मानचित्र
    2. जनसंख्या मानचित्र
    3. आर्थिक मानचित्र
    4. परिवहन मानचित्र
  • मानचित्रों का उपयोग  
    • दूरी का मापन
    • दिशा का मापन
    • क्षेत्र का मापन
2 मानचित्र मापनी
  • मापनी व्यक्त करने की विधियाँ  
    • मापनी का प्रकथन
    • आलेखी अथवा ग्राफ़ी
    • निरूपन भिन्न (R.F.)
  • मापनी का रूपांतरण  
    • मापनी के प्रकथन को निरूपक भिन्न में बदलना
    • निरूपक भिन्न को मापनी के प्रकथन में परिवर्तित करना
  • आलेखि या रेखिका मापनी की रचना  
3 अक्षांश, देशांतर और समय
  • अक्षांश, देशांतर और समय का परिचय  
  • अक्षांश समांतर  
    • अक्षांश समांतर बनाना
  • देशांतर याम्योत्तर  
    • देशांतरीय याम्योत्तर बनाना
  • देशांतर और समय  
  • अंतरराष्ट्रीय तिथि रेखा  
    • अंतरराष्ट्रीय तिथि रेखा
    • अंतरराष्ट्रीय तिथि रेखा का महत्त्व
4 मानचित्र प्रक्षेप
  • मानचित्र प्रक्षेप की आवश्यकता  
  • मानचित्र प्रक्षेप के तत्त्व  
    • पृथ्वी का छोटा रूप
    • अक्षांश के समांतर
    • देशांतर के याम्योत्तर
    • ग्लोब के गुण
  • मानचित्र प्रक्षेप का वर्गीकरण  
    • बनाने की तकनीक
    • विकासनीय पृष्ठ
    • भू-मंडलीय गुण
    • प्रकाश का स्रोत
  • कुछ चने हुए मानचित्र प्रक्षेप  
    • एक मानक अक्षांश रेखा वाला शंकु प्रक्षेप
    • बेलनाकार सम-क्षेत्रफल प्रक्षेप
    • मर्केटर प्रक्षेप
5 स्थलाकृतिक मानचित्र
  • स्थलाकृतिक मानचित्र का परिचय  
    • विश्व की अंतर्राष्ट्रीय मानचित्र श्रृंखला
    • स्थलाकृतिक मानचित्र पठन
  • उच्चावच निरूपण विधियाँ  
  • समोच्च रेखा  
    • समोच्च रेखाओं के कुछ मूल लक्षण
    • समोच्च रेखाओं एवं उनके अनुप्रस्थ परिच्छेद खींचना
  • ढाल के प्रकार  
    • मंद ढाल
    • खड़ी ढाल
    • अवतल ढाल
    • उत्तल ढाल
  • स्थलाकृतियों के प्रकार  
    • शंक्वाकार पहाड़ी
    • पठार
  • घाटी  
    • V आकार की घाटी
    • U आकार की घाटी
    • महाखड्ड (गार्ज)
    • पर्वतस्कंध
    • भृगु
    • जलप्रपात
    • अनुप्रस्थ परिच्छेद बनाने के चरण
  • स्थलाकृतिक शीट पर सांस्कृतिक लक्षणों की पहचान  
    • बस्तियों का वितरण
    • यातायात एवं संचार का प्रतिरूप
  • स्थलाकृतिक मानचित्रों का निर्वचन  
    • सामान्यतः जिन शीर्षकों के अंतर्गत स्थलाकृतिक मानचित्रों की व्याख्या की जाती है, वे हैं:
    1. उपांत सूचनाएँ
    2. क्षेत्र का उच्चावच एवं अपवाह
    3. भूमि उपयोग
    4. यातायात एवं संचार
    5. व्यवसाय
  • मानचित्र निर्वचन विधि  
6 वायव फ़ोटो का परिचय
  • वायव फ़ोटो का परिचय  
  • वायव फ़ोटो के उपयोग  
    • फ़ोटोग्राममिति
    • प्रतिबिंब निर्वचन
  • वायव फ़ोटो के लाभ  
  • वायव फ़ोटो के प्रकार  
    • कैमरा अक्ष की स्थिति के आधार पर वायव फ़ोटो के प्रकार
    1. ऊर्ध्वाधर फ़ोटोग्राफ़
    2. अल्प तिर्यक फ़ोटोग्राफ़
    3. अति तिर्यक फ़ोटोग्राफ़
    • मापनी के आधार पर वायव फ़ोटो के प्रकार
    1. बृहत मापनी फ़ोटोग्राफ़
    2. मध्यम मापनी फ़ोटोग्राफ़
    3. लघु मापनी फ़ोटोग्राफ़
  • वायव फ़ोटो की ज्यामिति  
    • समांतर प्रक्षेप
    • लंबकोणीय प्रक्षेप
    • केंद्रीय प्रक्षेप
  • मानचित्र एवं वायव फ़ोटो के बीच अंतर  
  • वायव फ़ोटो की मापनी  
    • प्रथम विधि: फ़ोटो एवं धरातलीय दूरी के बीच संबंध स्थापित करना
    • द्वितीय विधि: फ़ोटो दूरी एवं मानचित्र दूरी में संबंध स्थापित करना
    • तृतीय विधि: फोकस दूरी (f) एवं वायुयान की उड़ान ऊँचाई (H) के बीच संबंध स्थापित करना
7 सुदूर संवेदन का परिचय
  • सुदूर संवेदन का परिचय  
  • सुदूर संवेदन की अवस्थाएँ  
    • ऊर्जा का स्रोत (सूर्य/स्वउत्सर्जन)
    • स्रोत से पृथ्वी के धरातल तक ऊर्जा का संचरण
    • पृथ्वी के धरातल के साथ ऊर्जा की अन्योन्यक्रिया
    • वायुमंडल से परावर्तित/उत्सर्जित ऊर्जा का प्रवर्धन
    • संवेदन के माध्यम से परावर्तित/उत्सर्जित ऊर्जा का अभिसूचन
    • प्राप्त ऊर्जा का फ़ोटोग्राफ़/आंकिक आँकड़ों के रूप में अभिसारण
    • आँकड़ा उत्पाद से विषयानुरूप सूचना सामग्री को निकालना
    • मानचित्र एवं सारणी के रूप में आँकड़ों एवं सूचनाओं का अभिसारण
  • संवेदक  
    • बहुवर्णक्रमीय (मल्टीस्पेक्ट्रल) स्कैनर
    1. विस्कब्रूम क्रमवीक्षक
    2. पुशब्रूम क्रमवीक्षक
  • उपग्रहों की विभेदन क्षमता  
  • संवेदन विभेदन  
    • धरातलीय विभेदन
    • वर्णक्रमीय स्पेक्ट्रम विभेदन
    • रेडियोमीट्रिक विभेदन
  • आँकड़ा उत्पाद  
    • फ़ोटोग्राफ़िक प्रतिबिंब
    • अंकीय प्रतिबिंब
  • उपग्रह से प्राप्त प्रतिबिंबों का निर्वचन  
    • प्रतिबिम्ब निर्वचन के तत्त्व
    1. आभा या रंग
    2. गठन
    3. आकार
    4. आकृति
    5. छाया
    6. प्रतिरूप
    7. साहचर्य
8 मौसम यंत्र, मानचित्र तथा चार्ट
  • मौसम यंत्र, मानचित्र तथा चार्ट का परिचय  
  • मौसम प्रेक्षण  
  • धरातलीय वेधशालाएँ  
  • अंतरिक्ष आधारित प्रेक्षण  
  • मौसम यंत्र  
    • तापमापी
    • वायुदाबमापी
    • पवन वेगमापी
    • वर्षामापी
  • मौसम मानचित्र एवं चार्ट  
    • मौसम मानचित्र
    • मौसम चार्ट
  • मौसम प्रतीक  
    • जलवायु आँकड़ों का मानचित्रीकरण
    • मौसम मानचित्र का निर्वचन
Advertisements
Share
Notifications



      Forgot password?
Use app×