निम्नलिखित का आशय स्पष्ट कीजिए − इनके लिए बेटा-बेटी, खसम-लुगाई, धर्म-ईमान सब रोटी का टुकड़ा है। - Hindi Course - B

Advertisements
Advertisements
One Line Answer

निम्नलिखित का आशय स्पष्ट कीजिए 

इनके लिए बेटा-बेटी, खसम-लुगाई, धर्म-ईमान सब रोटी का टुकड़ा है।

Advertisements

Solution

यह गरीबों पर एक बड़ा व्यंग्य है। अपनी भूख के लिए उन्हें पैसा कमाने रोज़ ही जाना पड़ता है परन्तु कहने वाले उनसे सहानुभूति न रखकर यह कहते हैं कि रोटी ही इनका ईमान है, रिश्ता-नाता इनके लिए कुछ भी नहीं है।

Concept: गद्य (Prose) (Class 9 B)
  Is there an error in this question or solution?
Chapter 1: यशपाल - दुःख का अधिकार - लिखित (ग) [Page 11]

APPEARS IN

NCERT Class 9 Hindi - Sparsh Part 1
Chapter 1 यशपाल - दुःख का अधिकार
लिखित (ग) | Q 2 | Page 11

RELATED QUESTIONS

मक्खनपुर पढ़ने जाने वाली बच्चों की टोली रास्ते में पड़ने वाले कुएँ में ढेला क्यों फेंकती थी?


कुएँ में उतरकर चिट्ठियों को निकालने संबंधी साहसिक वर्णन को अपने शब्दों में लिखिए।


लेखक का ऑपरेशन करने से सर्जन क्यों हिचक रहे थे?


लेखक को पुरस्कार स्वरूप मिली दोनों पुस्तकों का कथ्य क्या था? ‘मेरा छोटा-सा निजी पुस्तकालय’ के आधार पर लिखिए।


रघुनाथ काका ने सत्याग्रहियों की मदद किस तरह की?


सरदार पटेल के चरित्र से आप किन-किन मूल्यों को अपनाना चाहेंगे?


बुढ़िया से खरबूजे खरीदने में लोगों को क्या डर सता रहा था?


नीचे दिए उदाहरण के अनुसार निम्नलिखित शब्द-युग्मों का वाक्य में प्रयोग कीजिए 

उदाहरण : हमारे पास एक वॉकी-टॉकी था।

टेढ़ी-मेढ़ी

गहरे-चौड़े

आस-पास

हक्का-बक्का

इधर-उधर

लंबे-चौड़े


अग्रिम दल ने एवरेस्ट अभियान दल की मदद किस तरह की?


कुछ लोग ईश्वर को रिश्वत क्यों देते हैं? ऐसे लोगों को लेखक क्या सुझाव देता है?


Share
Notifications



      Forgot password?
Use app×