निम्न पंक्तियों में से प्रतीकात्मक पंक्ति छाँटकर उसके स्पष्ट कीजिए –(1) चलते-चलते जो कभी गिर जाओ।(2) रात की कोख ही से सुबह जन्म लेती है।(3) अपनी आँखों में जब भी देखा है। - Hindi

Advertisements
Advertisements
Short Note

निम्न पंक्तियों में से प्रतीकात्मक पंक्ति छाँटकर उसके स्पष्ट कीजिए –
(1) चलते-चलते जो कभी गिर जाओ।
(2) रात की कोख ही से सुबह जन्म लेती है।
(3) अपनी आँखों में जब भी देखा है।

Advertisements

Solution

दी गई पंक्तियों में से प्रतीकात्मक पंक्ति :

'रात की कोख ही से सुबह जन्म लेती है।'

स्पष्टीकरण : कवि त्रिपुरारी जी ने प्रस्तुत पंक्ति में सुबह की जन्मदात्री के रूप में रात को महत्त्व प्रदान किया है। कवि कहते हैं कि यदि रात न होती तो सुबह नहीं हो सकती थी। इस तरह उन्होंने सुबह की जन्मदात्री के रूप में रात को प्रतिपादित किया है। इसके लिए सुबह का जन्म रात की कोख से होना जैसे प्रतीक का उपयोग किया है। जैसे माता की कोख से बालक का जन्म होता है, कवि ने ठीक उसी तरह रात की कोख से सुबह का जन्म होता हुआ दर्शाया है। इस तरह कवि ने सुबह के जन्म के लिए 'रात की कोख' जैसे सार्थक प्रतीक का प्रयोग किया है।

'चलते-चलते जो कभी गिर जाओ।'

स्पष्टीकरण: जीवन पथ पर चलते-चलते कभी-कभी गिर भी गए तो खुद को सँभालकर आगे बढ़ना चाहिए। गिरने पर जो चोट लगती है वह हमें जीवन का नया पाठ सिखाती है क्योंकि ठोकर खाकर ही हमें जीने की कला का सबक मिलता है। अनुभव से बड़ा कोई शिक्षक नहीं। बस, जीवन चलने का नाम है, आगे बढ़ने का नाम है इसे याद रखना होगा।

'अपनी आँखों में जब भी देखा है।'

स्पष्टीकरण: मैंने जब कभी अपनी आँखों में देखा स्वयं को एक बालक की तरह अबोध, निष्पाप पाया। इससे तो यही सिद्ध होता है कि उम्र बढ़ती ही नहीं। वास्तव में उम्र बढ़ती है वैसे-वैसे हम मासुमियत खो देते हैं और दुनियादारी निभाते-निभाते हमारे भीतर छिपे बालक को बड़ा बुजुर्ग, अनुभवी बनाकर जीवन की सुंदरता का गला घोट देते हैं। मन को अशांत, तनाव पूर्ण, कुंठा ग्रस्त बना देते हैं। इससे मुक्ति पाना है तो खुद के भीतर छिपे बालक को जीवित रखना चाहिए।

Concept: पद्य (Poetry) (11th Standard)
  Is there an error in this question or solution?
Chapter 1: प्रेरणा - काव्य सौंदर्य [Page 3]

APPEARS IN

Balbharati Hindi - Yuvakbharati 11th Standard HSC Maharashtra State Board
Chapter 1 प्रेरणा
काव्य सौंदर्य | Q 2 | Page 3

RELATED QUESTIONS

नौकरीपेशा अभिभावकों के बच्चों के पालन की समस्या पर प्रकाश डालिए।


जानकारी दीजिए:
त्रिपुरारि जी की अन्य रचनाएँ - __________________


संकल्पना स्पष्ट कीजिए -

विषम श्रृंखलाएँ


संकल्पना स्पष्ट कीजिए -

युग बंदिनी हवाएँ


आशय लिखिए :

‘‘ऊँची हुई मशाल हमारी......हमारा घर है।’’


जानकारी दीजिए :

गिरिजाकुमार माथुर जी केकाव्यसंग्रह -


जानकारी दीजिए :

‘तार सप्तक’ केदो कवियों के नाम -


अंतर स्पष्ट कीजिए -

माया रस राम रस
__________________ __________________

‘प्रेम और स्नेह मनुष्य जीवन का आधार है’, इस संदर्भ में अपना मत लिखिए।


ईश्वर भक्ति तथा प्रेम के आधार पर साखी के प्रथम छह पदों का रसास्वादन कीजिए।


निम्नलिखित वाक्य शुद्ध करके फिर से लिखिए -

उसे तुम्हारे शक्ती पर विश्वास हो गया।


निम्नलिखित वाक्य शुद्ध करके फिर से लिखिए -

मल्लिका ने देखी तो आँखे फटी रह गया।


निम्नलिखित वाक्य शुद्ध करके फिर से लिखिए -

यहाँतक पहुँचते-पहुँचतेमार्च पर भारा अप्रैल लग जायेगी।


निम्नलिखित वाक्य शुद्ध करके फिर से लिखिए -

हमारा तो सबसे प्रीती है।


निम्नलिखित वाक्य शुद्ध करके फिर से लिखिए -

इसकी काम आएगा।


‘माँ ममता का सागर होती है’, इस उक्ति में निहित विचार अपनेशब्दों में लिखिए।


बाल हठ और वात्सल्य के आधार पर सूर के पदों का रसास्वादन कीजिए।


सूचनाओं के अनुसार कृतियाँ कीजिए :
घटनाक्रम के अनुसार लिखिए -

  1. मीठे पानी का सोता है।
  2. ममता के बादल कीं मँड़राती कोमलता-भीतर पिराती है।
  3. सभी वह तुम्हारे ही कारण के कार्यों का घेरा है, कार्यों का वैभव है।
  4. जितना भी उँड़ेलता हूँ, भर-भर फिर आता है।

निम्नलिखित असत्य कथनों को कविता के आधार पर सही करके लिखिए –
अब यह आत्मा बलवान और सक्षम हो गई है और छटपटाती छाती को वर्तमान में सताती है।


जानकारी दीजिए :
मुक्तिबोध जी की कविताओं की विशेषताएँ।


अलंकार पहचानकर लिखिए :
के-रख की नूपुर-ध्वनि सुन।
जगती-जगती की मूक प्यास।


उत्तर लिखिए :

प्रथम स्वागत करते हुए दिलाया विश्वास ____________


मातृभूमि की महत्ता को अपनेशब्दों मेंव्यक्त कीजिए।


गिरमिटियों की भावना तथा कवि की संवेदना को समझतेहुए कविता का रसास्वादन कीजिए।


जानकारी दीजिए :

अन्य प्रवासी साहित्यकारों के नाम -


लिखिए:
कवि ने इनसे सावधान किया है 


गजल में प्रयुक्त विरोधाभास वाली दो पंक्तियाँ ढूँढ़कर उनका अर्थ लिखिए।


'कागज की पोशाक शब्द की प्रतीकात्मकता स्पष्ट कीजिए।


जानकारी दीजिए:
डॉ. राहत इंदौरी जी की गजलों की विशेषताएँ।


Share
Notifications



      Forgot password?
Use app×