Advertisement Remove all ads

‘मैं प्रकृति बोल रही हूँ’ विषय पर निबंध लेखन कीजिए। - Hindi [हिंदी]

Answer in Brief

‘मैं प्रकृति बोल रही हूँ’ विषय पर निबंध लेखन कीजिए। 

Advertisement Remove all ads

Solution

मैं प्रकृति बोल रही हूँ

आज मैं आप सबसे कुछ कहने के लिए बाध्य हो गई हूँ | त्रेता युग में जब राक्षसों ने धरती पर अत्याचार किया था, तब मैं गाय का रूप पकड़ कर देवताओं के पास गई थी | मेरी पुकार सुनकर श्री रामचंद्र अवतार लिया था | रावण का वध कर मुझे राक्षसों के पाप से मुक्त कराया था |

तेत्रा में तो एक रावण था, अब अनेक रावण हैं | किसी कवि ने कहा है -

घर-घर लंका, जन-जन रावण
इतने राम कहाँ से लाऊँ?

आज तो हर व्यक्ति रावण बन गया है | भवन निर्माता भवन बनाने ले लिए वृक्षों की कटाई करते हैं | विकास के नाम पर जंगल काटे जा रहे हैं | जल संचयन की व्यवस्था नहीं हो रही है, उलटे धरती के नीचे का जल निकल उसे खोखला किया जा रहा है | मनुष्य केवल ले रहा है, दे कुछ भी नहीं रहा है | धरती के नीचे से कोयला, खनिज तेल, अभ्रक आदि चीजें निकाली जा रहीं हैं | मनुष्य पहाड़ों को तोड़ रहा है, इस कारण हमारा संतुलन बिगड़ रहा है |

विज्ञान के इस युग में मनुष्य तरह-तरह के कारखाने तैयार कर रहा है, उनसे पैदा होनेवाला धुआँ आसमान में जा रहा है, परिणामस्वरूप आसमान प्रदूषित हो रहा है | कारखानों से निकलने वाले जल को समुद्र अथवा नदियों में छोड़कर वह जल को प्रदूषित कर रहा हैं | आसमान में तमाम सेट लाइट, उपग्रह प्रक्षेपित हो रहे हैं | उनका कार्यकाल समाप्त होने पर वे आकाश में कचरा बन जाएँगे |

जरा मेरी बात पर गौर कीजिए | मनुष्य अपने कर्म से मेरे गर्भ को खोखला बना रहा है | मेरे धरातल को प्रदूषित क्र रहा है | वह इसके दुष्परिणामों के बारे में जरा-भी नहीं सोच रहा है | अपने इन कार्यों से मनुष्य अपना ही भविष्य खतरे में डाल रहा है | जगह-जगह युद्ध हो रहे हैं | लोगों को साँस लेना भी मुश्किल हो रहा है | मेरे बेटे तरह-तरह की बिमारियों के शिकार हो रहे हैं |

मैं ईश्वर से प्रार्थना करती हूँ कि वह मेरा दोहन बंद करे ताकि वह सुख-शांति से रह सके |

Concept: रचना विभाग (१० वीं कक्षा)
  Is there an error in this question or solution?
Advertisement Remove all ads
Advertisement Remove all ads
Advertisement Remove all ads
Share
Notifications

View all notifications


      Forgot password?
View in app×