Advertisement Remove all ads

हम उस धरती के लड़के हैं, जिस धरती की बातें क्या कहिए; अजी क्या कहिए; हाँ क्या कहिए। यह वह मिट्टी, जिस मिट्टी में खेले थे यहाँ ध्रुव-से बच्चे। - Hindi (Second/Third Language) [हिंदी (दूसरी/तीसरी भाषा)]

Advertisement Remove all ads
Advertisement Remove all ads
Advertisement Remove all ads
Answer in Brief

निम्नलिखित पठित पद्यांश पढ़कर दी गई सूचनाओं के अनुसार कृतियाँ कीजिए:

हम उस धरती के लड़के हैं, जिस धरती की बातें
क्या कहिए; अजी क्या कहिए; हाँ क्या कहिए।
यह वह मिट्टी, जिस मिट्टी में खेले थे यहाँ ध्रुव-से बच्चे।

यह मिट्टी, हुए प्रहलाद जहाँ, जो अपनी लगन के थे सच्चे।
शेरों के जबड़े खुलवाकर, थे जहाँ भरत दतुली गिनते,
जयमल-पत्ता अपने आगे, थे नहीं किसी को कुछ गिनते!

इस कारण हम तुमसे बढ़कर, हम सबके आगे चुप रहिए।
अजी चुप रहिए, हाँ चुप रहिए। हम उस धरती के लड़के हैं...

1. सूचनानुसार लिखिए: (2)

  1. ऐसी पंक्ति जिसमें पौराणिक संदर्भ है - ______
  2. ऐसी पंक्ति जिसमें ऐतिहासिक संदर्भ हो - ______

2. 'इतिहास हमें प्रेरणा देता है' विषय पर २५ से ३० शब्दों में अपने विचार लिखिए। (2)

Advertisement Remove all ads

Solution

1.

  1. यह मिट्टी, हुए प्रहलाद जहाँ, जो अपनी लगन के थे सच्चे।
  2. जयमल-पत्ता अपने आगे, थे नहीं किसी को कुछ गिनते!

2. इतिहास हमारी भूतकाल की घटनाओंका संग्रह होता है। इतिहास में हमारे पूर्वजों द्वारा की गई अच्छी-बुरी सभी प्रकार की गतिविधियों की विस्तृत जानकारी होती है। इन जानकारियों के आधार पर हम वर्तमान व भविष्य की नीतियाँ तैयार करते हैं। इतिहास की घटनाएँ हमें समझाती हैं कि क्या हमारे हित में है और क्या हमारे लिए नुकसानदायक है। इतिहास से हम ज्ञान व प्रेरणा प्राप्त कर भविष्य में आसानी से सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इतिहास हमें सोच-समझकर आगे बढ़ने का संदेश देता है। कोई भी व्यक्ति अपने इतिहास को भुलाकर आगे नहीं बढ़ सकता है। इतिहास हमें सदैव विवेक से कार्य लेते हुए आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है।

Concept: पद्य (10th Standard)
  Is there an error in this question or solution?
Advertisement Remove all ads
Advertisement Remove all ads
Share
Notifications

View all notifications


      Forgot password?
View in app×